Follow us:

Sone ka Bhav Dec 2020: सोने पर छह हफ्तों में पहली बार छूट, जानिए क्यों बने ऐसे हालात

घरेलू हाजर बाजार में इस सप्ताह सोना छह हफ्तों में पहली बार आधिकारिक कीमतों पर छूट के साथ बिका। कीमतें एक माह के ऊंचे स्तर पर पहुंचने की वजह से मांग घटने के कारण ऐसी स्थिति बनी। साल के अंत की छुट्टियां शुरू होने से पहले एशिया के अन्य बाजारों में भी सोने की खरीदारी सुस्त रही।गुरुवार को स्थानीय गोल्ड फ्यूचर 50,642 रुपये प्रति 10 ग्राम पर जा पहुंचा, जो इस साल 18 नवंबर से अब तक का सबसे ऊंचा स्तर है। स्थानीय सराफा कारोबारियों ने कहा कि मांग काफी सुस्त पड़ गई है। कीमतें बढ़ने की वजह से खुदरा खरीदार खरीदारी टाल रहे हैं। उन्होंने बताया कि कमजोर मांग के बावजूद शनिवार को भी सोने की कीमत कुछ बढ़ गई।

घरेलू गोल्ड डीलरों ने इस हफ्ते सोने की आधिकारिक कीमतों पर एक डालर (73.41 रुपये) प्रति औंस (28.35 ग्राम) छूट की पेशकश की। इसमें 10 प्रतिशत आयात शुल्क और तीन प्रतिशत बिक्री कर शामिल है। इसके उलट पिछले हफ्ते घरेलू बाजार में सोना 2.5 डालर (183.52 रुपये) प्रति औंस प्रीमियम पर बिका था।

स्थानीय सराफा में मामूली तेजी

इंदौर के सराफा बाजार में शनिवार को सोने की कीमत 65 रुपये प्रति 10 ग्राम और चांदी का भाव 50 रुपये प्रति किलो बढ़ गया। सोना 51,300 रुपये और चांदी 65,200 रुपये रही। औसत भाव-सोना 51,325 रुपये प्रति 10 ग्राम, चांदी 65,250 रुपये प्रति किलो और चांदी सिक्का 750 रुपये प्रति नग।

रतलामः चांदी चौरसा 67,000 रुपये, टंच 67,100 रुपये, सोना स्टैंडर्ड 51,500 रुपये और रवा 51450 रुपये (आरटीजीएस भाव)।

उज्जैनः सोना स्टैंडर्ड 51,400 रुपये, सोना रवा 51,300 रुपये, चांदी पाट 65,500 रुपये, चांदी टंच 65,300 रुपये और चांदी सिक्का 700 रुपये प्रति नग