Follow us:

1 अगस्त से बदल जाएंगे पैसों से जुड़े ये 4 नियम, आपकी जेब पर डालेंगे सीधा असर

1 अगस्त से कई बड़े बदलाव होने जा रहे है जिसका व्यक्ति के जीवन पर असर पड़ेगा। बैंकों से लेकर इंश्योरेंस से जुड़े इन बदलावों की वजह से आम आदमी के जेब पर सीधा असर होगा। कई बैंकों में मिनिमम बैलेंस की लिमिट बदल गई है और इसका ध्यान नहीं रखा जो चार्ज लगेगा, इसी तरह राहतभरी खबर यह है कि IRDAI के फैसले की वजह से कार और दोपहिया वाहन खरीदते वक्त ऑन रोड कीमत कम चुकानी होगी। हम आपको इन बदले हुए नियमों की जानकारी दे रहे हैं, इन पर ध्यान नहीं देने की स्थिति में आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है।

1. LPG रसोई गैस की कीमत:

तेल मार्केटिंग कंपनियां हर महीने की 1 तारीख को LPG रसोई गैस सिलेंडर और हवाई ईंधन की नई कीमतों की घोषणा करती हैं। पिछले कुछ महीनों से इन कीमतों में लगातार वृद्धि हो रही है। 1 अगस्त को भी लोगों की जेब पर असर पड़ेगा क्योंकि LPG रसोई गैस की कीमत बढ़ने का अनुमान है।

2. कम लगेगी वाहनों की ऑन रोड कीमत:

भारतीय इश्योरेंस विनियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) के एक फैसले की वजह से 1 अगस्त 2020 से नई गाड़ियां खरीदते वक्त अब लंबी अवधि की इंश्योरेंस पैकेज पॉलिसी नहीं खरीदना होगी। इसकी वजह से कार और दो पहिया वाहन खरीदने वालों को अब ऑन रोड कीमत कम देना होगी। लंबी अवधि की इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत कार का तीन साल का और दो पहिया वाहनों का पांच साल का इंश्योरेंस कराना पड़ रहा था, जो अब जरूरी नहीं होगा। अब कार खरीदने वाले को एक साथ तीन साल और दो पहिया वाहन खरीदने वाले को एक साथ पांच साल का इंश्योरेंस नहीं कराना होगा।

3. मिनिमम बैलेंस और लेनदेन के नियम में बदलाव:

कई बैंकों ने अपने नकद संतुलन और डिजिटल ट्रांजेक्शनको बढ़ाने के लिए 1 अगस्त से न्यूनतम बैलेंस पर चार्ज लगाने की घोषणा की है। इन बैंकों में तीन मुफ्त लेनदेन के बाद शुल्क भी वसूला जाएगा। बैंक ऑफ महाराष्ट्र, कोटक महिंद्रा बैंक और एक्सिस बैंक में यह चार्ज वसूला जाएगा।

बैंक ऑफ महाराष्ट्र में बचत खाता धारकों को अब मेट्रो और शहरी क्षेत्रों में अपने खाते में न्यूनतम 2000 रुपए रखने होंगे, पहले यह राशि 1500 रुपए थी। कम बैलेंस पर मेट्रो और शहरी क्षेत्रों में 75 रुपए, अर्द्ध शहरी क्षेत्र में 50 रुपए और ग्रामीण क्षेत्र में 20 रुपए चार्ज लेगा।

4. RBL बैंक के सेविंग्स ब्याज दर में बदलाव:

RBL बैंक सेविंग्स खाते की ब्याज दर में बदलाव कर रहा है, जो 1 अगस्त से लागू होगी। अब सेविंग्स खाते में 1 लाख रुपए तक जमा पर 4.75 प्रतिशत सालाना ब्याज मिलेगा। 1 से 10 लाख रुपए पर 6 प्रतिशत, 10 लाख से 5 करोड़ रुपए पर 6.75 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा। डेबिट कार्ड खराब हो जाने या खो जाने पर 200 रुपए शुल्क चुकाना होगा। टाइटेनियम डेबिट कार्ड के लिए सालाना 250 रुपए चुकाना होंगे। एक महीने में 5 बार एटीएम से मुफ्त कैश निकाल सकेंगे।