Follow us:

लखीमपुर खीरी में 13 साल की बच्ची की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार

उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी में 13 साल की बच्ची से सामूहिक दुष्कर्म कर हत्या कर दी गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है। इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की है।

लखीमपुर खीरी जिले के ईशानगर थाने के पकरिया गांव में बलात्कार के बाद यह घटना सामने आई। बच्ची का शव शुक्रवार रात को गन्ने के खेत में मिला था। बच्ची शुक्रवार दोपहर से लापता थी। बच्ची के पिता का आरोप है कि उसका शव रात को एक खेत में मिला। उसकी आंखें निकली हुई थीं और जुबान कटी गई थी। गले में दुपट्टा कसा हुआ था।

लखीमपुर खीरी के पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र कुमार ने बताया कि इस बच्ची की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बलात्कार की पुष्टि हुई है। आंखें फोड़ने या जीभ काटने की बात रिपोर्ट में नहीं है। गन्ने की वजह से आंख में चोट अवश्य लगी है।

इससे पहले धोरहरा सर्किल के पुलिस अधिकारी अभिषेक प्रताप ने बताया था कि बच्ची से बलात्कार के बाद हत्या की बात सामने आई है। दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिस खेत में बच्ची का शव मिला था, वह खेत एक आरोपी का है। आंखें फोड़ने या निकालने की बात सही नहीं है। आरोपियों पर रासुका (NSA) के तहत कार्रवाई कर उन्हें जेल भेज दिया गया है।


मायावती ने भाजपा सरकार पर साधा निशाना:

इस मामले में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने ट्वीट कर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा, 'यूपी के लखीमपुर खीरी में पकरिया गांव में नाबालिग के साथ बलात्कार के बाद उनकी नृशंस हत्या अति दु:खद और शर्मनाक है। ऐसी घटनाओं से समाजवादी पार्टी और वर्तमान बीजेपी सरकार में फिर क्या अंतर रहा? सरकार आजमगड़ के साथ खीरी दे दोषियों के विरुद्ध भी सख्त कार्रवाई करें।'