Follow us:

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली भड़के, इन गलतियों को ठहराया हार के लिए जिम्मेदार

टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के हाथों एडिलेड टेस्ट में 8 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा. इस हार की वजह से टीम इंडिया चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से पिछड़ गई है. पहले टेस्ट की दूसरी पारी में बल्लेबाजों के निराशाजनक प्रदर्शन से पहले भारतीय फील्डर्स ने बेहद ही खराब खेल दिखाया. कप्तान विराट कोहली ने कहा कि भारतीय फील्डरों के कैच छोड़ने का आस्ट्रेलिया को फायदा मिला.


मयंक अग्रवाल ने आस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन का कैच छोड़ा था. पेन ने नाबाद 73 रन बनाते हुए आस्ट्रेलिया को 191 के स्कोर तक पहुंचाया था. पेन का जब कैच छूटा, तो वह 26 रनों पर थे. भारत ने मार्नस लाबुशैन के भी कुछ कैच छोड़े थे.


कोहली ने कहा, "पेन का कैच काफी अहम रहा. मुझे लगता है कि उस समय उनका स्कोर सात विकेट पर 110 (111) रन था, वहां पेन को मौका मिला और उन्होंने 70 के करीब रन बना दिए. लाबुशैन को भी कुछ मौके मिले. टेस्ट क्रिकेट में आपको इस तरह के मौके भुनाने होते हैं, क्योंकि यह आपको काफी महंगे साबित हो सकते हैं. हमने देखा है कि टेस्ट क्रिकेट में कैच न लेने का परिणाम काफी बुरे हो सकते हैं. टीम आपको बार-बार मौका नहीं देती हैं. जब आपको मौका मिले आपको उसे भुनाना चाहिए. अगर वो कैच पकड़ लिए जाते और हमारे पास कुछ और रनों की बढ़त होती तो यह हमारे लिए बहुत अच्छा होता."


विराट के लिए निराशाजनक रहा साल 2020


वैसे साल 2020 विराट कोहली के लिए निजी तौर पर बेहद ही निराशाजनक रहा. विराट कोहली 2008 के बाद पहली बार किसी कैलेंडर ईयर में एक भी शतक नहीं जड़ पाए. इसके साथ ही विराट कोहली को इस साल लगातार तीन टेस्ट में हार का सामना करना पड़ा.


ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला टेस्ट खेलने के बाद कप्तान विराट कोहली इंडिया वापस लौट रहे हैं. विराट कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा जनवरी की शुरुआत में पहले बच्चे को जन्म दे सकती हैं.

Related News