Follow us:

राजस्थान के सवाईमाधोपुर में भाजपा और कांग्रेस की महिला पदाधिकारी चला रही थीं जिस्मफरोशी का धंधा

देश में महिलाओं के खिलाफ अपराध थमते नजर नहीं आ रहे हैं। ऐसे मामलों में राजनीति भी खूब हो रही है। इस बीच राजस्थान के सवाईमाधोपुर से हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां कांग्रेस और भाजपा की जिला स्तर की महिला पदाधिकारी मिलकर जिस्मफरोशी का धंधा चला रही थीं। इन पर कई नाबालिग लड़कियों का सौदा करने का आरोप लगे हैं। भाजपा की महिला पदाधिकारी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया है, जबकि कांग्रेस सेवादल की सदस्य फरार है। भाजपा ने अपनी महिला नेत्री को पार्टी से बाहर कर दिया है। इस मामले की चर्चा पूरे देश में हो रही है।

अब तक की जानकारी के मुताबिक, भाजपा महिला मोर्चा की पूर्व जिलाध्यक्ष सुनीता वर्मा उर्फ संपति बाई को गिरफ्तार किया जा चुका है। वहीं कांग्रेस सेवादल महिला प्रकोष्ठ की पूर्व जिलाध्यक्ष पूजा उर्फ पूनम चौधरी फरार हैं। पूरे मामले में अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

पुलिस को मिली शिकायत के अनुसार, दोनों महिला नेत्रियोंं मिलकर यह गोरखधंधा चला रही थीं। कहा जा रहा है कि इनके चंगुल में कई लड़कियां और महिलाएं फंसी हैं। अब तक जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें शामिल हैं सुनीता का साथी हीरालाल, कलेक्टर कार्यालय के चपरासी श्योराम मीना, जिला उद्योग केंद्र के लिपिक संदीप शर्मा और इलेक्ट्रिशियन राजूलाल रैगर।

एक नाबालिग की शिकायत के अनुसार, दोनों महिला नेत्रियां मिलकर यह काम करती थीं। उनके तार दूसरे शहरों से भी हैं। हालांकि इनमें से एक महिला नेता ने कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर लिखा था कि दोनों दलों में बहुत गंदे और चरित्रहीन लोग बैठे हैं और वो समय आने पर उनका पर्दाफाश करेगी।