Follow us:

महाराष्‍ट्र में देर रात से जारी बारिश, मौसम विभाग का मुंबई में येलो अलर्ट, 4 दिन बेहद भारी

नई दिल्‍ली। मुंबई वालों के लिए अगले 4 दिन बेहद भारी साबित होनेवाले हैं। मौसम विभाग‌ ने अगले 4 दिनों के लिए भारी बारिश (Heavy rain) का अनुमान जताते हुए येलो अलर्ट (Yellow Alert) जारी किया है। इस बीच शहर में देर रात से रुक-रुककर तेज बारिश हो रही है। बांद्रा सायन टी जंक्शन के पास तेज बारिश के बाद जलजमाव होना शुरू हो गया है। वहीं मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक आज दोपहर समंदर में हाईटाइड आ सकता है। इस दौरान साढ़े 13 फीट तक ऊंची लहरें उठ सकती हैं। महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी को देखते हुए सीएम एकनाथ शिंदे ने मुख्य सचिव मनुकुमार श्रीवास्तव से बात की। सीएम ने सभी जिलों के पालक सचिवों से उनके जिलों में जाकर बारिश की स्थित पर नज़र रखने और एहतियातन कदम उठाने के आदेश दिए।

मुंबई-गोवा हाईवे जाम
चिपलुन-परशुराम घाट के ढह जाने से प्रशासन ने घाट रोड को बंद करने का निर्णय लिया है जिसके चलते चिपलून में हाईवे पर जाम लग गया है। यहां वाहनों की लंबी कतारें लगी हैं। यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। पिछले 16 घंटे से मुंबई-गोवा हाइवे पूरी तरह से जाम है।

मुंबई में देर रात से रुक-रुककर बारिश
मुंबई में देर रात से रुक-रुक तेज बारिश हो रही है। इस बीच मौसम विभाग के पूर्वानुमान ने मुंबई वासियों की धड़कनें बढ़ा दी है। अगले 4 दिन भारी बारिश के अनुमान से लोग पहले ही अलर्ट हो गए हैं। सबसे बड़ा खतरा जलजमाव और इससे होनेवाले नुकसान का रहता है। साथ ही दफ्तर या अपने काम पर आने-जानेवाले लोगों की परेशानी बढ़ जाती है। सड़कों के साथ-साथ रेल ट्रैक पर भी पानी भर जाता है।

दोपहर बाद 3 बजकर 53 मिनट पर हाईटाइड
मौसम विभाग के मुताबिक आज दोपहर 3 बजकर 53 मिनट पर 4.07 मीटर का हाईटाइड आ सकता है। समंदर में उठने वाली तेज लहरों के पूर्वनुमान के मद्देनजर लोगों से समंदर के आसपास न जाने की अपील की गई है। क्योंकि कई बार बरसात के मौसम में लोग समंदर के आसपास चले जाते हैं और हाईटाइड से जानमाल का नुकसान हो जाता है।

बांद्रा सायन टी जंक्शन के पास जलजमाव
मंगलवार सुबह से ही रुक-रुक कर मुम्बई के कई इलाके में तेज बारिश हो रही है जिसके चलते जलजमाव जैसै हालात पैदा होने लगे हैं। मुम्बई के बांद्रा सायन टी जंक्शन के पास तेज़ बारिश के बाद जलजमाव होना शुरू हो गया है। हालांकि इस जलजमाव से आवागमन पर कोई असर नहीं पड़ा है।

मुख्यमंत्री खुद कर रहे हैं हालात की समीक्षा
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे खुद हालात पर नजर रख रहे हैं। उन्होंने सभी राज्य के सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश दिया है कि बाढ़ की स्थिति में नागरिकों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के इंतजाम किए जाएं। साथ ही उन्होंने एनडीआरएफ दस्ते को भी तैयार रखने का निर्देश दिया है। वे कोंकण क्षेत्र के सभी जिलों के जिला कलेक्टरों के संपर्क में हैं। मुख्यमंत्री मुंबई के हालात पर भी पैनी नजर रखे हुए हैं।

 

 

Related News