Follow us:

छिंदवाड़ा में पिकनिक मनाने गए थे 6 दोस्त, 3 डूबता देखकर तीन भागकर घर आ गए, रात में निकाले तीनों के शव

छिंदवाड़ा। छिंदवाड़ा के अमरवाड़ा में पिकनिक मनाने गए 3 मासूम बच्चे झिरिया (तालाब) में डूब गए। तीनों दोस्त थे। उन्हें डूबता देख अन्य तीन दोस्त भाग गए और डर के कारण घटना के संबंध में किसी को कुछ नहीं बताया। सोमवार शाम तक जब तीनों घर नहीं पहुंचे तो उनकी तलाश शुरू की। देर रात तीनों के शव झिरिया से निकाले गए।

अमरवाड़ा SDPO डॉ.संतोष डेहरिया ने बताया कि अमरवाड़ा के वार्ड क्रमांक एक निवासी 14 वर्षीय यश पुत्र जीवन साहू अपने पांच अन्य दोस्तों के साथ सोमवार को गरमेटा मंदिर के पास गया था। बताया जा रहा है कि बर्थडे सेलिब्रेट करने के बाद तीन लड़के पास के झिरिया में नहाने उतर गए, जबकि तीन लड़के बाहर ही खड़े रहे। नहाने के दौरान ही तीनों लड़के गहरे पानी में चले गए और डूब गए। ये देख बाहर खड़े तीनों लड़के डर गए और चुपचाप घर आकर सो गए। दोस्तों के डूबने के संबंध में किसी की कोई जानकारी नहीं दी।

उधर, शाम तक तीन लड़के अपने घर नहीं पहुंचे। परिवार वाले उनकी तलाश में जुट गए। देर शाम जानकारी मिली कि गरमेटा मंदिर के पास झिरिया में लाश उतरा रही है। इस सूचना के बाद पुलिस ने मौके पर जाकर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया तो यहां यश साहू (14), सक्षम यादव (12) और कार्तिक (9) के शव निकाले गए।

अगर दोस्त मदद मांगते तो बच जाती जान

साथियों को डूबता देख उनके तीन दोस्त पीयूष पुत्र गनेश अहरवार, कुंदन पुत्र सतीश वर्मा और सानू पुत्र राजेश डेहरिया वहां से भागकर घर चले गए। अगर घटना के दौरान वे मंदिर में आकर मदद मांगते तो शायद उनके तीनों दोस्त बच जाते।

हादसे के बाद गांव में मातम पसर गया

एक हादसे में एक साथ तीन बच्चों की जान जाने के बाद पूरा गांव सदमे में हैं। वहीं देर रात तक अस्पताल में अपने घर के चिराग बुझने पर परिवार वाले रोते-बिलखते रहे। शवों का मंगलवार को पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा।

 

Related News