Follow us:

संसद में BJP संसदीय दल की बैठक, पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, न संसद चलने, न चर्चा होने देती है कांग्रेस

नई दिल्ली। संसद में सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के संसदीय दल की बैठक आयोजित की गई। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा, केंद्रीय संसदीय मंत्री प्रह्लाद जोशी शामिल हुए। पिछलेे सप्ताह की तरह ही आज भी संसदीय दल की बैठक में संसद के मानसून सत्र के दौरान विपक्ष के हंगामे को लेकर चर्चा की संभावना है जिसे प्रधानमंत्री ने 'गैरजिम्मेदाराना' बताया था।

बता दें कि 19 जुलाई से शुरू संसद के मानसून सत्र की शुरुआत ही विपक्ष के हंगामे के साथ हुई जिसके कारण अब तक दोनों सदनों का कामकाज न के बराबर हुआ है। हर घंटे स्थगित होने वाली सदनों की कार्यवाही को लेकर आज प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में होने वाली बैठक के दौरान ये मुद्दे उठाए जाने की पूरी संभावना है।

बैठक के लिए जारी नोटिस में बताया गया, 'भाजपा संसदीय दल की बैठक मंगलवार सुबह 9.30 बजे पार्लियामेंट लाइब्रेरी बिल्डिंग के जीएमसी बालयोगी ऑडिटोरियम में होगी।' दोनों सदनों के सभी भाजपा सदस्यों को बैठक में शामिल होने को कहा गया है। इससे पहले भाजपा की संसदीय दल की बैठक 20 जुलाई को हुई थी। इस बैठक में प्रधानमंत्री ने संसद में विपक्षी दलों द्वारा हंगामा करने और कार्यवाही में बाधा पहुंचाने पर चिंता जताई थी। उन्होंने संसद में विपक्षी दलों के रवैये को लेकर कहा था कि जब देश महामारी की संकट का सामना कर रहा है ऐसे में विपक्षी दलों का रवैया काफी गैर जिम्मेदाराना है।

बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत केंद्रीय मंत्रिपरिषद के लगभग सभी सदस्य, बीजेपी सांसद और अध्यक्ष जे पी नड्डा मौजूद थे। वहीं बैठक के बाद संसदीय कार्यमंत्री प्रल्हाद जोशी ने कहा था, 'प्रधानमंत्री ने विपक्ष के रवैये पर बहुत चिंता व्यक्त की। प्रधानमंत्री चाहते हैं कि सदन में चर्चा हो और सार्थक चर्चा हो। इसके लिए विपक्षी दलों को चर्चा में हिस्सा लेना चाहिए। केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों सहित विभिन्न मुद्दों पर विपक्षी दलों के हंगामे के कारण सोमवार को संसद का कामकाज बाधित हुआ था। यहां तक कि हंगामे के कारण प्रधानमंत्री मंत्रिपरिषद के सदस्यों का दोनों में से किसी सदन में परिचय नहीं करा पाए। बाद में उन्हें मंत्रियों की सूची को सदन के पटल पर रखना पड़ा।

 

 

Related News