Follow us:

कोरोना महामारी पर पीएम मोदी की बैठक, केंद्र-राज्य और स्थानीय अधिकारियों के ठोस प्रयासों की सराहना की

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन, NITI के सदस्य, कैबिनेट सचिव और केंद्र सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक के जरिए देश में फैली कोरोना महामारी की स्थिति पर नजर डाली। पीएम ने निर्देश दिया कि हमें सार्वजनिक स्थानों पर व्यक्तिगत स्वच्छता और सामाजिक अनुशासन का पालन करने की आवश्यकता को दोहराना चाहिए। पीएम ने कहा कि COVID के बारे में जागरूकता का व्यापक रूप से प्रसार किया जाना चाहिए और संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए निरंतर जोर दिया जाना चाहिए।

वहीं, इस दौरान पीएम ने दिल्ली में महामारी की स्थिति में केंद्र, राज्य और स्थानीय अधिकारियों के ठोस प्रयासों की सराहना की। उन्होंने आगे निर्देश दिया कि पूरे एनसीआर क्षेत्र में COVID-19 महामारी को इस तरह काबू करने के लिए अन्य राज्य सरकारों को भी समान दृष्टिकोण अपनाया जाना चाहिए।

पीएम मोदी ने यह भी निर्देश दिया कि सभी प्रभावित राज्यों और उच्च परीक्षण सकारात्मकता वाले स्थानों पर राष्ट्रीय स्तर की निगरानी और मार्गदर्शन प्रदान किया जाए। बैठक के दौरान, पीएम ने अहमदाबाद में इस्तेमाल हो रहे 'धन्वंतरि रथ' की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि निगरानी रखने और घरों तक मेडिकल केयर पहुंचाने का 'धन्वंतरि रथ' एक सफल उदाहरण है और इसे दूसरी जगहों पर भी अपनाया जा सकता है।

बता दें कि देश में कोरोना के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं और पिछले कई दिनों से हर दिन 20, 000 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। शनिवार की बात करें तो देश में पिछले 24 घंटों में कुल 27,114 नए मामले सामने आए हैं और 519 लोगों की मौत हो गई है।

हालांकि, यहां इस बात पर भी जोर देना चाहिए कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण से संक्रमित मरीज तेजी से ठीक हो रहे हैं। देश में अब तक कुल आठ लाख 20 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। देश में कोरोना से संक्रमित 62.78 फीसद मरीज ठीक हो गए हैं। इनमें से पांच लाख से ज्यादा मरीज ठीक हो गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार भारत में कोरोना वायरस (COVID-19) के 8,20,916 मामले सामने आ गए हैं। इनमें से 2,83,407 एक्टिव केस हैं। 5,15,386 लोग ठीक हो गए हैं और 22,123 लोगों की मौत हो गई है।

देश में टेस्टिंग की बात करें तो पिछले 24 घंटे में 2, 82, 511 लोगों की टेस्टिंग हुई है और देश में अब तक 1,13,07,002 टेस्ट हो चुके हैं। वहीं, कोरोना से देश में सबसे प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है। यहां 2,38,461 मामले सामने आ गए हैं। 95,943 एक्टिव केस हैं। 1,32,625 लोग ठीक हो गए हैं। वहीं 9893 लोगों की मौत हो गई है। तमिलनाडु में 1,30,261 मामले सामने आए हैं। इनमें से 46,108 एक्टिव केस है। 82,324 लोग ठीक हो गए हैं। 1829 लोगों की मौत हो गई है। दिल्ली 1,09,140 मामले सामने आ गए हैं। इनमें से 21146 एक्टिव केस है। 84,694 लोग ठीक हो गए हैं और 3300 लोगों की मौत हो गई है।

महाराष्ट्र, तमिलनाडु और दिल्ली में कोरोना की चेन तोड़ने का प्रयास अधिकारियों द्वारा जी जान से किया गया। हालांकि, बाकी राज्य भी कोरोना को खत्म करने की दिशा में काम कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश की बात करें तो यहां 33,700 मामले सामने आए हैं। इनमें से 11024 एक्टिव केस हैं। 21787 लोग ठीक हो गए हैं और 889 लोगों की मौत हो गई है। यहां पर एक बार फिर लॉकडाउन लगाया जा चुका है। यह लॉकडाउन शुक्रवार रात से चालू हो गया है। बता दें कि यह लॉकडाउन सिर्फ 13 जुलाई की सुबह पांच बजे तक लगाया गया है। इससे राज्य में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए मदद मिल सकती है। वहीं, बता दें उत्तर प्रदेश से पहले भी कई राज्य दोबारा लॉकडाउन लगा चुके हैं।

 

Related News