Follow us:

महाभारत युद्ध 18 दिन में जीता गया, हम कोरोना के खिलाफ जंग 21 दिन में जीतेंगे: PM नरेंद्र मोदी

वाराणसी। देशभर में तेजी से पैर पसार रहे कोरोना वायरस को देखते हुए पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए काशी वासियों से संवाद किया. अपने संसदीय क्षेत्र की जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का पालन करने के लिए सभी का आभार. देश आज संकट के दौर से गुजर रहा है. आज देश ने कोरोना से युद्ध छेड़ दिया है. हमें इस महामारी से जीतने में 21 दिन लगेंगे.130 करोड़ महारथियों के जरिए हम इस युद्ध को जीतेंगे. महाभारत के युद्ध को जीतने में 18 दिन लगे थे, लेकिन हम कोरोना के खिलाफ जंग को 21 दिन में जीतेंगे.

कोरोना को लेकर हेल्प डेस्क का गठन
सरकार ने कोरोनोवायरस के बारे में सही जानकारी देने के लिए व्हाट्सएप के साथ मिलकर एक हेल्प डेस्क का गठन किया है. यदि आपके पास व्हाट्सएप है तो आप मो. 9013151515 से जानकारी ले या दे सकते हैं. व्हाट्सएप नंबर पर 'नमस्ते' लिखे ही तुरंत प्रतिक्रिया मिलेगी. आप अंग्रेजी या फिर हिंदी किसी भी भाषा में संवाद कर सकते हैं.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए काशी वासियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज नवरात्रि का पहला दिन है, आप सभी अनुष्ठान और प्रार्थना करने में व्यस्त होंगे, लेकिन फिर भी आपने इस बातचीत के लिए समय निकाला, मैं आप सभी का आभारी हूं. मैं देवी शैलपुत्री से प्रार्थना करता हूं कि वे हमें कोरोनोवायरस के खिलाफ देश की लड़ाई लड़ने की ताकत दे.

''21 दिनों तक 9 परिवारो की देखभाल करने का संकल्प लें''
इस दौरान पीएम मोदी ने अपील की है कि जिसके पास क्षमता है, वह 21 दिनों तक 9 परिवारों की देखभाल करने का संकल्प लें, यह एक सच्ची 'नवरात्रि' होगी. तालाबंदी के कारण पशुओं को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. लोग अपने आसपास के जानवरों की भी देखभाल करें.

उन्होंने कहा कि, वाराणसी के सांसद के तौर पर, मुझे इस समय में आपके साथ होना चाहिए था. लेकिन दिल्ली में जो चीजें चल रही हैं, उस वजह से व्यस्त हूं. लेकिन अपने सहयोगियों से वाराणसी के बारे में नियमित अपडेट ले रहा हूं.

उन्होंने कहा, ''कई बार, लोग उन चीजों पर ध्यान नहीं देता जो महत्वपूर्ण होती हैं और ऐसा ही आज भारत में हो रहा है. अनुरोध करता हूं कि लोग तथ्यों को समझें और अफवाहों पर ध्यान न दें. ऐसा सोचना की हम रोजाना योग, व्यायाम करते हैं तो हमे कोरोना नहीं होगा तो गलत है. COVID19 अमीर और गरीब के साथ भेदभाव नहीं करता है.''

डॉक्टरों से बदसलूकी पीड़ा दायक: पीएम मोदी
इस दौरान पीएम मोदी ने डॉक्टर्स और नर्सों के साथ हो रही बदसलूकी की भी निंदा की. उन्होंने कहा कि डॉक्टरों से बदसलूकी पीड़ा दायक है. मैं सभी नागरिकों से अपील करता हूं कि जहां भी डॉक्टर्स और नर्स से बुरा व्यवहार करते हुए किसी को देखें, तो तुरंत रोक कर ऐसे करने वाले को समझाएं कि वो गलत कर रहा है. हम डॉक्टरों का कर्ज कभी नहीं चुका सकते. डॉक्टर ही हैं जो अपनी जान जोखिम में डालकर हमें बचा रहे हैं. अस्पतालों में सफेद वर्दी में काम करने वाले लोग (डॉक्टर्स और नर्स) आज हमारे लिए भगवान की तरह हैं, वे हमें बीमारी से बचा रहे हैं. अस्पतालों में लोग आज हर दिन लगभग 18 घंटे काम कर रहे हैं, स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में लोग 2-3 घंटे से ज्यादा की नींद नहीं ले रहा हैं. सिविल सोसाइटियां गरीबों की मदद के लिए दिन-रात काम कर रही हैं. हमें ऐसे लोगों को सलाम करना चाहिए जो इस महत्वपूर्ण समय में समाज की सेवा कर रहे हैं.

गृह मंत्रालय और डीजीपी को उन लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए कहा गया है जो डॉक्टरों, नर्सों और इस समय जरूरी सेवाएं दे रहे लोगों के साथ सहयोग नहीं कर रहे हैं.

पीएम मोदी ने इस दौरान काबुल में हुए हमले की निंदा की. उन्होंने कहा, ''काबुल के गुरुद्वारा में हुए आतंकी हमले से दुखी हूं, सभी मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं.''

 

Related News